UP Bhulekh (भूलेख) 2022: उत्तर प्रदेश खसरा खतौनी नकल, Land Record Online

UP Bhulekh Online | उत्तर प्रदेश खसरा खतौनी नकल | UP Land Record Online Check | उत्तर प्रदेश भूलेख के प्रकार

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के लोगों को उनकी जमीन का विवरण ऑनलाइन उपलब्ध कराने के लिए UP Bhulekh (भूलेख) 2022 की शुरुआत की गई। भूलेख एक प्रकार का भूमि का लिखित विवरण होता है जिसके माध्यम से व्यक्ति अपनी जमीन से जुड़ी सभी जानकारी आसानी से प्राप्त करने में सक्षम रहते हैं। यूपी भूलेख के माध्यम से उत्तर प्रदेश का कोई भी व्यक्ति अपनी जमीन का पूरा विवरण आधिकारिक वेबसाइट पर प्राप्त कर सकता है एवं साथ-साथ उस जमीन पर अपने मालिकाना हक भी जता सकता है। उत्तर प्रदेश खसरा खतौनी नकल के लिए सरकार द्वारा एक आधिकारिक वेबसाइट शुरू की गई है जिसके बारे में हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से स्पष्ट करने जा रहे हैं।

UP Bhulekh (भूलेख) 

राज्य सरकार द्वारा पूरे प्रदेश को डिजिटलीकरण की ओर ले जाने हेतु इस योजना की शुरूआत की गई। अब उत्तर प्रदेश के लोगों को उनकी जमीन का पूरा विवरण लिखित रूप में प्रदान यूपी भूलेख पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध कराया जाएगा। भूलेख पोर्टल को अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग नाम से पुकारा जाता है जैसे खसरा खतौनी नकल, भूमि अभिलेख, खेत के कागजात, भूमिका ब्यौरा एवं खाता आदि। UP Bhulekh (भूलेख)  का उपयोग करके प्रदेश के लोग अपने भूमि से संबंधित जानकारी कंप्यूटराइज तरीके से घर बैठे ही प्राप्त कर सकेंगे। इस सुविधा की शुरुआत भू अभिलेखों के प्रति दिन की गतिविधियों को सुव्यवस्थित करने के लिए की गई है। यदि आप भी उत्तर प्रदेश के नागरिक हैं और अपनी जमीन का विवरण ऑनलाइन माध्यम से देखना चाहते हैं तो आप इस आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आसानी से देख सकते हैं।

 यूपी भूलेख का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किया गया यू पी भूलेख पोर्टल के उद्देश्य कुछ इस प्रकार हैं:-

  • इस पोर्टल के माध्यम से लोगों को अपनी भूमि से संबंधित जानकारी ऑनलाइन देखने में काफी आसानी महसूस होगी।
  • अब राज्य के लोगों को अपनी भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए विभिन्न कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।
  • यूपी भूलेख से पिछड़ी प्रणाली की तुलना में बहुत व्यवस्था और पारदर्शिता आएगी।
  • लोग घर बैठे ही अपनी भूमि से संबंधित विवरण प्राप्त कर सकेंगे एवं उस पर मालिकाना हक भी जाता सकेंगे।

लैंड रिकॉर्ड ऑनलाइन की हाइलाइट्स

यूपी भूलेख पोर्टल की कुछ मुख्य हाइलाइट्स इस प्रकार हैं:-

  • पोर्टल का नाम- UP Bhulekh (भूलेख)
  • किसके द्वारा शुरू किया गया- उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
  • लाभार्थी– राज्य के नागरिक
  • उद्देश्य- नागरिकों को उनकी भूमि से संबंधित विवरण ऑनलाइन उपलब्ध कराना
  • लाभ- लोगों को अपनी भूमि से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए विभिन्न सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • आवेदन की प्रक्रिया- ऑनलाइन आवेदन
  • आधिकारिक वेबसाइट-http://upbhulekh.gov.in/ 

यूपी भूलेख 2022- खसरा खतौनी नकल

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य को डिजिटलीकरण की ओर ले जाने के लिए विभिन्न प्रिया से चल रहे हैं। इसी बात को मद्देनजर रखते हुए सरकार द्वारा जमीनों का पूरा विवरण ऑनलाइन दर्ज कर दिया गया है। अब उत्तर प्रदेश के लोगों को अपनी जमीन का पूरा विवरण ऑनलाइन देखने के लिए एवं उस पर मालिकाना हक जताने के लिए विभिन्न सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह घर बैठे ही इंटरनेट का उपयोग करके यूपी भूलेख 2022- खसरा खतौनी नकल का लाभ उठा सकते हैं। 

उत्तर प्रदेश भूलेख के प्रकार

सरकार द्वारा शुरू किया गया उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल के प्रकार निम्नलिखित हैं

  • जमाबंदी- जमाबंदी को फर्द के नाम से भी जाना जाता है यह एक भूमि रिकॉर्ड विवरण है जैसे कि मालिक का नाम कल्टीवेटर का नाम खसरा नंबर क्षेत्र फसल विवरण पट्टा विवरण आदि।
  • खसरा नंबर- लोगों की प्लॉट संख्या यह सर्वे संख्या को खसरा नंबर के नाम से जाना जाता है जो सरकार द्वारा कृषि भूमि को प्रदान की जाती है।
  • खतौनी नंबर- यह एक प्रकार की संख्या होती है जो कल्टीवेटर को दी जाती है ताकि भूमि के अलग-अलग हिस्से की पहचान हो सके।
  • खाता नंबर- खाता नंबर को खेवट नंबर के नाम से भी जाना जाता है यह एक प्रकार की संख्या होती है जो मालिकों के सेट को दी जाती है। 

यूपी भूलेख पोर्टल के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के लोगों को उनकी भूमि का विवरण ऑनलाइन उपलब्ध कराने हेतु यूपी भूलेख पोर्टल का शुभारंभ किया गया है ‌
  • इस पोर्टल का उपयोग करके राज्य के लोग घर बैठे ही अपनी भूमि से जुड़ी संपूर्ण जानकारी ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।
  • साथ ही साथ लोग यूपी भूलेख पोर्टल का उपयोग करके जमीन पर मालिकाना हक भी जता सकते हैं।
  • इस पोर्टल को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि राज्य को डिजिटलीकरण की ओर ले जाया जा सके ताकि हमारा देश आगे बढ़ सके।
  • इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के लोगों को विभिन्न सरकारी पटवारखाने के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • इससे उनके समय की भी बचत होगी और उन्हें अपना पैसा बर्बाद करने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • इस पोर्टल के माध्यम से पिछली प्रणाली की तुलना में इस प्रणाली में काफी पारदर्शिता आएगी।
  • UP Bhulekh (भूलेख) को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि भू अभिलेखों की गतिविधियों को व्यवस्थित किया जा सके।
  • यदि आप भी घर बैठे ही इंटरनेट का उपयोग करके अपनी भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको भू अभिलेख के पोर्टल पर जाना होगा।

Pension Scheme

UP Bhulekh (भूलेख) नकल देखने की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी अपनी जमीन से जुड़ी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है।

UP Bhulekh
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको खतौनी की नकल देखें के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पॉपअप खुलकर आएगा।
UP Bhulekh
  • इस पॉपअप में आपको कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपने जिला, तहसील, ग्राम, खसरा/ खतौनी नंबर या सर्वे नंबर या पट्टे की जानकारी दर्ज करनी है।
उत्तर प्रदेश भूलेख
  • दर्ज करने के बाद आपको यहां खसरा गाटा संख्या भरनी होगी।
उत्तर प्रदेश भूलेख
  • संख्या दर्ज करने के बाद संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी।

राजस्व ग्राम खतौनी का कोड जानने की प्रक्रिया

UP Bhulekh
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आप से पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी है जैसे जनपद तहसील और ग्राम।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपके सामने ग्राम कोड खुलकर आ जाएगा।

भूखंड/ घाटे का यूनिक कोड जानने की प्रक्रिया

भूखंड/ घाटे का यूनिक कोड
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको जनपद तहसील और ग्राम का चयन करना है।
  • चयन करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको खसरा/ गाटा संख्या दर्ज करनी है।
  • दर्ज करने के बाद आपके सामने भूखंड/ गाटे यूनिक कोड खुलकर आ जाएगा।

उत्तर प्रदेश भू नक्शा देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश भूलेख खतौनी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको जनपद, तहसील और ग्राम का चयन करना है।
  • चयन करने के बाद आपको चयनित क्षेत्र का नक्शा दिखाई देगा
  • आपको संबंधित खाता धारक का नाम देखने के लिए फॉर्म नंबर पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने खाता संख्या खुलकर आएगी।
  • इस प्रकार आप भूमि के नक्शे का प्रिंट आउट निकाल सकते हैं।

खतौनी लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको राजस्व परिषद उत्तर प्रदेश भूलेख खतौनी की धिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको खतौनी लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करना है।
UP Bhulekh
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको विभिन्न प्रकार के विकल्प दिखाई देंगे‌ जैसे
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार इच्छुक विकल्प का चयन करना है।
  • चयन करने के बाद आपके सामने लॉगइन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे
    • प्रयोगकर्ता
    • पासवर्ड
    • कैप्चा कोड
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Login के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप लॉगिन कर पाएंगे।

भूखंड/ घाटे के बाद ग्रस्त होने की स्थिति जानने की प्रक्रिया

भूखंड/ घाटे के बाद ग्रस्त होने की स्थिति
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको जनपद तहसील और ग्राम का चयन करना है।
  • चयन करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको खसरा गाटा संख्या दर्ज करनी है
  • दर्ज करने के बाद आपके सामने संबंधित जानकारी खुलकर आ जाएगी।

Contact Us

यदि आपको यूपी भूलेख से संबंधित किसी भी प्रकार की कठिनाई आती है तो आप नीचे दिए गए संपर्क विवरण पर संपर्क कर सकते हैं

  • Computer Cell
  • Board Of Revenue
  • Lucknow, Uttar Pradesh
  • Email ID- bhulekh-up@gov.in 
  • Phone Number- 0522-2217145