नाबार्ड योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, डेयरी फार्मिंग योजना, NABARD डेयरी लोन

NABARD Yojana Apply Online | नाबार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन | नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना | NABARD Dairy Loan Scheme | डेयरी लोन एप्लीकेशन फॉर्म

देश के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को रोजगार के अवसर मुहैया कराने हेतु केंद्र सरकार द्वारा नाबार्ड योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को लोन मोहिया कराया जाएगा। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की जिंदगी में काफी सुधार आएगा। प्राप्त होने वाले लोन लोगों को बैंकों द्वारा मुहैया कराया जाएगा। यदि आप भी NABARD Yojana 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि हमारी इस लेख को अंत तक विस्तार पूर्वक पढ़ें।

NABARD Yojana 2021

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के बेरोजगार लोगों को स्वरोजगार के अवसर मुहैया कराने के लिए की गई है। सरकार द्वारा इन सभी बेरोजगार लोगों को बैंकों द्वारा लोन मुहैया कराया जाएगा। जिसका उपयोग करके देश के ग्रामीण क्षेत्र के लोग रोजगार के अवसरों को बढ़ावा दे सकेंगे और उनकी आर्थिक स्थिति में काफी सुधार आएगा। NABARD योजना 2021 को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश में दूध के उत्पादन को बढ़ाया जाए और विभिन्न डेयरी फार्म की स्थापना की जा सके। साथ साथ इस योजना के माध्यम से गाय या भैंस को की देखरेख गायों की रक्षा की का निर्माण आदि कुछ मशीन आधारित किया जाएगा।

नाबार्ड योजना

नाबार्ड योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा आरंभ की गई नाबार्ड योजना के उद्देश्य कुछ इस प्रकार हैं:-

  • इस योजना के माध्यम से देश के ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे।
  • सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि ग्रामीण क्षेत्र के लोगों द्वारा डेयरी फार्मिंग लगाई जाए ताकि उस से बेहतर आजीविका के अवसर प्राप्त हो सके।
  • नाबार्ड योजना के माध्यम से बैंकों द्वारा बिना ब्याज के लोन मुहैया कराया जाएगा ताकि मैं अपना व्यवसाय आसानी से चला सके।
  • इस योजना के माध्यम से देश से बेरोजगारी दर को खत्म किया जाएगा एवं किसानों की आय में वृद्धि की जाएगी।

NABARD योजना के तहत बैंक सब्सिडी

  • इस योजना के माध्यम से आप दुग्ध उत्पाद के प्रशासन के लिए उपकरण खरीद सकते हैं।
  • दुग्ध उत्पाद बनाने के लिए यूनिट शुरू करने के लिए भी लोगों को सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • एससी एसटी कैटेगरी वर्ग के लोगों को 4.40 लाख रुपये की सब्सिडी मिल के लिए प्रदान की जाएगी।
  • यदि आप उपकरण खरीदते हैं और उसकी कीमत 13.20 लॉक रुपए होती है तो आपको 25 फ़ीसदी की कैपिटल सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • 5 गांव में देरी शुरू करने के लिए आप को उनकी लागत का सबूत देना होगा और तब सरकार द्वारा 50% सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • नाबार्ड के डीडीएम द्वारा कहा गया कि इस योजना में किरण राशि बैंक द्वारा अनुमोदित की जाएगी और 25% लाभार्थी द्वारा देनी होगी।

स्वामित्व योजना 

NABARD डेयरी योजना के तहत फार्मिंग योजनाएं

पहली योजना- साहिवाल, लाल सिंधी, राठी, खीर इत्यादि जैसे देसी दूध देने वाली गाय/ हाइब्रिड गाय/ दुधारू पशुओं
  • निवेश- 2 पशुओं से लेकर 10 वर्षों तक डेयरी खोलने के लिए ₹500000
  • सब्सिडी- पशुओं की देरी पर 25%, पूंजी सब्सिडी सीमा 1.25 लाख रुपए, अधिकतम अनुमति पूंजी सब्सिडी दो पशु इकाई के लिए 2.50 लाख रुपए
दूसरी योजना- बछिया बछड़ों के पालन/ 20 बछड़ों के ऊपर/ पार्सल स्वदेशी मवेशियों और वर्गीकृत/
  • निवेश- 20 बछड़ों इकाइयों के लिए 80 लाख रुपए, पांच बछड़ों के न्यूनतम इकाई आकार और 20 बछड़ों की अधिकतम सीमा के साथ
  • सब्सिडी- 20 बछड़ों तक की यूनिट खोलने के लिए 25% सब्सिडी, लोगों की सब्सिडी के नेतृत्व प्रतिशत।
तीसरी योजना- वर्मी कंपोस्ट और खाद
  • निवेश- ₹20000
  • सब्सिडी- 4.50 लख रुपे तक कोई भी व्यक्ति इस योजना के तहत निवेश कर सकता है तो उसे 25% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। और यदि ₹600000 का प्रवेश करता है तो उसे 33% की सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी।
चौथी योजना- दूध परीक्षको/ दूध निकालने की मशीन पर खरीद/ अधिक मात्रा में दूध होने पर उसे ठंडा रखने के लिए फ्रिज
  • निवेश- व्यक्ति 18 लाख रुपए तक का निवेश कर सकता है
  • सब्सिडी- आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों को 4.50 लाख रुपये पर 25% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
पांचवी योजना- स्वदेशी दूध उत्पादकों का उत्पादन करने के लिए डेयरी प्रसंस्करण
  • निवेश- व्यक्ति ₹1200000 तक का निवेश कर सकता है।
  • सब्सिडी- ₹300000 तक की पूंजी लेने पर 25%, ‌₹400000 तक की पुण्य प्राप्त करने पर 33% की सब्सिडी
छठी योजना- डेयरी उत्पाद परिवहन सुविधाएं
  • निवेश- व्यक्ति ₹2400000 तक का निवेश कर सकता है
  • सब्सिडी- अधिकतम ₹750000 तक का लोन लेने पर 25% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी और 1000000 रुपए तक का लोन लेने पर 33% की सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी।
सातवीं योजना- दूध और दुग्ध उत्पादकों के लिए शीत भंडारण
  • निवेश- व्यक्ति कम से कम ₹30000 तक का निवेश कर सकता है
  • सब्सिडी- चिकित्सा खोलने पर व्यक्तियों को 25% का हिस्सा प्रदान किया जाएगा। मोबाइल होने पर ₹45000 की सब्सिडी प्रदान की जाएगी और स्थिर होने पर 60,000 की सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी। अनुसूचित जाति के आवेदकों को कुल खर्च का 33% हिस्सा सरकार द्वारा दिया जाएगा।
आठवी योजना- निजी पशु चिकित्सा क्लिनिक की स्थापना
  • निवेश- मोबाइल क्लीनिक के लिए ₹240000 और स्थिर करने के लिए ₹180000
  • सब्सिडी- व्यय का 25% ₹45000 और ₹60000 की पूंजी सब्सिडी किसानों के लिए।
नवी योजना- डेयरी मार्केटिंग आउटलेट/ डेयरी पार्लर
  • निवेश- व्यक्ति 56 हजार रुपए तक निवेश कर सकते हैं।
  • सब्सिडी- पूंजी सब्सिडी व्यय के लिए 25% या ₹14000 तक की सीमा के रूप में समाप्त होता है।

PMEGP Loan Scheme

नाबार्ड योजना के लाभार्थी

  • उद्यमी
  • किसान
  • कंपनियां
  • संगठित समूह
  • असंगठित क्षेत्र
  • गैर सरकारी संगठन

NABARD Dairy Yojana के अंतर्गत लोन देने वाली संस्थाएं

  • राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक
  • अन्य संस्थान नाबार्ड से पुनर वित्त के लिए पात्र हैं
  • व्यवसायिक बैंक
  • क्षेत्रीय बैंक
  • राज्य सहकारी बैंक

नाबार्ड योजना के तहत पात्रता

  • देश के किसान, व्यक्तिगत उद्यमी, गैर सरकारी, संगठन, कंपनियां और संगठित और असंगठित क्षेत्र के समूह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • इस योजना के तहत सभी घटकों के लिए सहायता प्रदान की जाएगी।
  • सभी घटक केवल एक ही बार योग्य माना जाएगा।
  • नाबार्ड योजना का लाभ केवल एक ही बार उठाया जा सकता है।
  • एक ही परिवार से अधिक सदस्यों को सहायता प्रदान की जाएगी।
  • अलग-अलग जगहों पर विभिन्न आधारभूत संरचनाओं के साथ अलग-अलग इकाइयों की स्थापना मदद की जाएगी।

Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana

नाबार्ड योजना 2021 के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

देश के जो इच्छुक लाभार्थी योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

नाबार्ड योजना
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Information Center के सेक्शन में देखना है।
नाबार्ड योजना
  • यहां आपको नाबार्ड योजना के पीडीएफ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आएगा।
  • इस पत्र में पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।

NABARD Dairy Yojana ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप किस प्रकार के डेयरी फार्म खोलना चाहते हैं।
  • इसके पश्चात आपको अपने जिले के नाबार्ड ऑफिस में जाना होगा।
  • यदि आप छोटी डेयरी फार्म खोलना चाहते हैं तो आपको नजदीकी बैंक में जाना होगा।
  • कार्यालय या बैंक में जाने के बाद आपको आवेदन पत्र की मांग करनी होगी।
  • आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद उसे पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको यह फॉर्म वही सबमिट कर देना होगा।
  • राशि प्राप्त करने के बाद नाबार्ड में अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट को जमा करना होगा।

हेल्पलाइन नंबर

आज हमने आपको इस लेख के माध्यम से नाबार्ड योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी स्पष्ट कर दी है यदि आपको इस योजना से संबंधित कोई भी कठिनाई आती है या मन में कोई भी प्रश्न आता है तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं

  • हेल्पलाइन नंबर- 022-26593895/ 96/ 99
  • ईमेल आईडी- webmaster@nabard.org.